सोमवार, 11 जुलाई 2011

घर से बेघर ..........






"घर से बेघर होने में घर के मायने तो मिले

कुछ ऐसे भी थे जिन्हें घर ही नहीं मिले"


6 टिप्‍पणियां:

  1. कभी फुर्सत में हमारे ब्लॉग पर भी आयिए-

    http://jazbaattheemotions.blogspot.com/
    http://mirzagalibatribute.blogspot.com/
    http://khaleelzibran.blogspot.com/
    http://qalamkasipahi.blogspot.com/


    एक गुज़ारिश है ...... अगर आपको कोई ब्लॉग पसंद आया हो तो कृपया उसे फॉलो करके उत्साह बढ़ाये|

    उत्तर देंहटाएं
  2. दो पंक्तियों में बहुत कुछ कह दिया आपने....
    हार्दिक बधाई...

    उत्तर देंहटाएं
  3. यथार्थपरक रचना.... हार्दिक बधाई।

    उत्तर देंहटाएं